Histats.com © 2005-2014 Privacy Policy - Terms Of Use - Check/do opt-out - Powered By Histats Hitoolbar Feedback help us to translate

Sunday, 5 July 2015

पत्रकार अक्षय सिंह का अंतिम संस्कार News Today 5 july 2015

देश के सबसे बड़े रोजगार घोटाले की कवरेज के दौरान संदिग्ध परस्थितियों में जान गंवाने वाले आजतक के विशेष संवाददाता अक्षय सिंह का रविवार को दिल्ली के निगम बोध घाट पर अंतिम संस्कार कर दिया गया. शनिवार को मध्य प्रदेश में झाबुआ के पास मेघनगर में अक्षय सिंह की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हुई थी. अक्षय पिछले चार दिनों से मध्य प्रदेश की अलग-अलग जगहों पर जाकर व्यापम घोटाला कवर कर रहे थे.
मध्य प्रदेश से दिल्ली लाया गया था शव
पोस्टमार्टम के बाद मध्य प्रदेश से अक्षय का शव दिल्ली लाया गया है. दोपहर करीब एक बजे शव दिल्ली पहुंचा. दोपहर दो बजे निगम बोध घाट पर उनका अंतिम संस्कार किया गया. इस दौरान कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया, दिल्ली प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय माकन समेत कई सियासी दलों के नेता निगम बोध घाट पहुंचे. सभी ने अक्षय सिंह को श्रद्धांजलि दी.

CM ने दिया SIT जांच का भरोसा

व्यापम घोटाले पर विपक्ष के गंभीर आरोप झेल रहे राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अक्षय सिंह की मौत पर शोक व्यक्त करते हुए मामले की SIT जांच कराने का आश्वासन दिया है. उन्होंने आजतक से बातचीत में कहा, 'मामले की जांच में राज्य सरकार कोई कोर-कसर नहीं छोड़ेगी. मैं आहत हूं. मध्य प्रदेश आकर रिपोर्टिंग करने वाले आजतक के पत्रकार की अचानक तबीयत बिगड़ गई, उनके साथ इंदौर के पत्रकार और कैमरामैन भी थे. उन्हें तुरंत अस्पताल ले जाया गया लेकिन बचाया नहीं जा सका. यह दुर्भाग्यपूर्ण है.'

संसद में उठेगा मामला
अक्षय सिंह की मौत के मामले को कांग्रेस संसद में उठाएगी. सूत्रों के मुताबिक, व्यापम घोटाले में लगातार हो रही मौतों पर राज्य सरकार के रवैये से नाराज होकर कांग्रेस ने यह फैसला लिया है.अक्षय सिंह की मौत के बाद एक बार फिर व्यापम घोटाले से जुड़े लोगों की मौतों के बढ़ते आंकड़े को लेकर बहस छिड़ गई है.

इंटरव्यू लेने के दौरान बिगड़ी तबीयत

अक्षय शनिवार को नम्रता डामोर के परिजनों का इंटरव्यू लेने मेघनगर गए. साल 2012 में नम्रता डामोर का नाम व्यापम घोटाले में आने के बाद उज्जैन में रेल पटरियों के पास उनका शव संदिग्ध परिस्थ‍ितियों में बरामद किया गया. नम्रता के पिता मेहताब सिंह डामोर ने कहा, 'आज दोपहर घर पर एक रिपोर्टर सहित चैनल के तीन लोग आए थे. बातचीत होने के बाद संबंधित कागजात की फोटोकॉपी कराने हमारा एक परिचित बाजार गया.' उन्होंने कहा, 'रिपोर्टर सहित चैनल के लोग जब उनके घर के बाहर फोटोकॉपी का इंतजार कर रहे थे, तभी अक्षय के मुंह से अचानक झाग निकलने लगा और उन्हें तत्काल सिविल अस्पताल ले जाया गया, जहां से उन्हें एक निजी अस्पताल भेज दिया गया.' हालांकि उस निजी अस्पताल से अक्षय को मध्य प्रदेश की सीमा से लगे गुजरात के दाहोद भी ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया.

No comments:

Post a Comment